Header Ads Widget

header ads

भारत के सभी राज्यों के प्रमुख लोक नृत्य




कुचीपुड़ी
कुचीपुड़ी आँध्रप्रदेश में प्रदर्शित होने वाला एक नृत्य नाटक है | इसका उदगम 17वीं शताब्दी में हुआ में हुआ था | इसमें नृतक सर पर पानी से भरा घड़ा लेकर शरीर को संतुलित कर एवं पदकौशल से पीतल की थाली की किनारी पर नृत्य करता है|
इसकी दो शैलियाँ हैं- 1. नृत्य नाटक, 2. एकल नृत्य प्रस्तुति |

ओड़िसी
ओड़िसी ओड़िसा राज्य का एक शास्त्रीय नृत्य है| यह नृत्य और गायन के रूप में ओड़िसी प्रेम और भाव, देवताओं और मानव से जुड़ा सांसारिक एवं लोकोत्तर नृत्य है | यह एक उच्च शैली का नृत्य है तथा कुछ मात्रा में शास्त्रीय नाट्य शास्त्र तथा अभिनय दर्पण पर आधारित है | चेहरे के भाव हस्त-मुद्राएं और शरीर की गतिविधियों का उपयोग एक निश्चित अनुभूति, एक भावना या नवरसों में से किसी एक संकेत के लिए किया जाता है |

मणिपुरी
मणिपुरी नृत्य भारत के शास्त्रीय नृत्यों में से एक है | यह नृत्य मुख्यतः हिन्दू वैष्णव प्रसंगों पर आधारित है, जिसमें राधा और कृष्ण के प्रेम प्रसंग प्रमुख हैं | इसमें शरीर धीमी गति से चलता है, सांकेतिक भव्यता और मनमोहक गति से भुजाएं अँगुलियों तक प्रवाहित होती हैं |


सत्रीय नृत्य
सत्रीय नृत्य असम का शास्त्रीय नृत्य है | इस नृत्य के संस्थापक महान संत शंकरदेव हैं | सत्रीय नृत्य का मूल आमतौर पर पौराणिक कथाएं होती हैं | सत्रीय नृत्य पुरुषों और महिलाओं द्वारा मंच पर प्रदर्शित किया जाता है |




राज्य
लोकनृत्य
जम्मू और कश्मीर   दमाली, कूद डंडी नाँच, मंदजात, हीकत, रऊफ |
हिमाचलप्रदेश नाटी, करथी, घुघटी, बुराह, धामन, डांगी, छापेली |
उत्तराखण्ड गढ़वाली,कुंमायूनि, रासलीला, कजरी, छापेली, थडिया |
उत्तरप्रदेश नौटंकी, रासलीला,कजरी, झोरा, चाप्पेली, जैता |
पंजाब भांगड़ा, गिद्दा, दफ्फ, धामन, भांड, नकूला |
हरियाणा झूमर, फाग, धमाल, लूर, गुग्गा, खोर, जागोर |
मध्यप्रदेश जवारा, मटकी, अड़ा-खड़ा नाँच, फूलपति, गृदानृत्य, सेलाभदोणी मंच, साले लडकियो |
छत्तीसगढ़ गौर, मारिया, पेंथी, राउतनाच, पण्डवाड़ी, वेडामती,भरथरी |
बिहार जाट-जाटिन,बक्खोबखैन, पांवरिया,विदेसिया, सामाचकवा|
झारखण्ड अलकप, कर्मा-मुंडा, अग्नि, झूमर(जनानी,मर्दाना), फगुआ, पैका, हुंटानृत्य, सरहुल, बाराओ, झीटका, डांगा,डोमचक |
पश्चिम बंगाल काठी, गम्भीरा, ढाली, जतरा, मरासिया, बाउल, महाल, कीर्तन 
असम बिहू, बिछुआ, नटपूजा, महारास, कालीगोपाल, खेलगोपाल, नांगानृत्य, होबजनाई, तालाब चोनगली, कनोई |
सिक्किम छू-फात नृत्य, सिकमारी, सिंघईचाम या स्नोलायन डांस, याकछांम, डेनजोंग नेनेहा, ताशीयांगकू, खुखूरी |
अरुणाचलप्रदेश   बुइया, छालो, वांचो, पासी कोंगकी, पोनुंग,       पॉपीर, बारडो छाम |
नागालैंड रंगमा, बांस नृत्य, जीलेंग, सुईरोलियंस, निथिंगलिम, तिमांगनेटिन, हेतलिपुलि |
त्रिपुरा होजागिरी |
मिजोरम छेरव नृत्य, खुल्लम, चैलम, जंगतालम, स्वलाकिम, परलाम, सोलकिया, लंगलम, च्वांगलाईज्वान |
मणिपुर डोल चोलम, थांग टा, लाई हराओवा, पुंगचोलोम, खांबा थाईबी, नूपा नृत्य, रासलीला, खूबक इशेली, लोहू शाह |
ओड़िशा ओडिसी, सवारी, घूमरा, पैरास मुनारी, छाऊ |
आँध्रप्रदेश कुचीपुड़ी, घंटमरदाला, ओट्टम थेडल, वेद नाटकम |
तेलंगाना पेरिनी शिवतांडवम |
तमिलनाडु भरतनाट्यम, कुमी, कोलट्टम, कवाड़ी |
कर्नाटक यक्षगान, कुनिथा, हुट्टारी, सुग्गी, करगा, लाम्बी |
केरल कथकली, मोहिनीअट्टम, ओट्टमथुलाल, काईकोट्टिकली |
महाराष्ट्र लावड़ी, नकाटा, लेजिम, गाफा, कोली, दहीकला, दशावतार या बोहादा |
गोवा तरंगमेल, कोली, देक्खनी, शिग्मो, घोड़े, मोडनी, समायी, जगर, रणमाले, गोंफ, टुन्यामेल
गुजरात गरबा, डांडिया रास, टिप्पनी जुरून, भावई |
राजस्थान घूमर, चाकरी, गणगौर, झूलन लीला, झूमा, सुइसिनी, घपाल, कालबेलिया |
मेघालय का शाद सुक मिनसेइम, नोंगरेम, लाहो |
लक्षद्वीप लावा, कोलकाई, परिचाकली |





Other Post you must read it.

Battle of Medieval history
Delhi Sultanate Ruling period
Sikh's Gurus Terms, Fact
Revolt of 1857